बूढ़ा जवान बच्चा.................


बूढ़ा, जवान, बच्चा, बीमार या सेहतमंद ,
आ जाये जिसकी कुछ हो बचता न बचाने से ॥
जिसके भी जनाज़े में जुटती हो भीड़ भारी ,
वो शख़्स अलहदा ही होता है जमाने से ॥
-डॉ. हीरालाल प्रजापति 

Comments

Popular posts from this blog

मुक्त-ग़ज़ल : 262 - पागल सरीखा

विवाह अभिनंदन पत्र

मुक्त-ग़ज़ल : 264 - पेचोख़म