*मुक्त-मुक्तक : 96 - उसके चेहरे पे..................



उसके चेहरे पे यों हिजाब कहाँ ?
फ़िर भी आसाँ खुली किताब कहाँ ?
बस लगाया करें क़ियास सभी ,
वो है क्या ? है सही जवाब कहाँ ?
-डॉ. हीरालाल प्रजापति 

Comments

Popular posts from this blog

विवाह अभिनंदन पत्र

विवाह आभार पत्र

मुक्त ग़ज़ल : 267 - तोप से बंदूक